Pages

Thursday, 12 March 2015

क्यूबेक शहर, कनाडा

पिछले दिनों हमारा बेटा यश वर्धन कुछ समय के लिए क्यूबेक शहर कनाडा में था। क्यूबेक शहर की गपशप और कुछ फ़ोटो प्रस्तुत हैं:

क्यूबेक नगर कनाडा के क्यूबेक प्रांत की राजधानी है। नगर की जनसंख्या लगभग पाँच लाख है। इसके मुक़ाबले तो दिल्ली की कई कॉलोनियों में इससे ज़्यादा आबादी तो है ! यहाँ जनवरी में पारा - २० डिग्री तक भी चला जाता है और बर्फ़ की सफेद चादर बिछ जाती है और नज़ारा सुंदर हो जाता है। 

क्यूबेक प्रांत की अधिकारिक भाषा फ़्रेंच है और ९०% से ज़्यादा लोग फ़्रेंच बोलते हैं। इंग्लिश समझते तो हैं पर नापसंद करते हैं। इसका ऐतिहासिक कारण है की कनाडा के इस भाग में फ़्रांसीसी पहले आए थे। 

यश किसी दोस्त के घर डिनर पर गए। दोस्त की सात साल और पांच साल की दो बेटियाँ से भी हेलो बोला। दोस्त ने बेटियों को बताया कि मेहमान इंडियन है। इस पर दोनों बेटियाँ घोड़ों की तरह कूदने लगीं और मुँह पर हाथ रख कर लालालालाला की आवाज निकालने लगीं। दोस्त ने हँसते हुए बताया कि वे इंडियन का मतलब 'रेड इंडियन' या 'नेटिव इंडियन' समझ रही हैं और इसलिए रेड इंडियन की नक़ल कर रही हैं !

कनाडा बहुत ही ठंडा देश है और सभी लोग एक समान ही गोरे हैं। पर अपने इंडिया में गोरे, गेहुंए, साँवले, भूरे और काले सभी कलर मिलते हैं। यश का किसी दोस्त के घर जाना हुआ जहाँ दोस्त की दादी से मुलाक़ात हुई। दादी अकेली ही अपने मकान में रहती थी जो पास ही था। दादी का एक किराएदार साउथ इंडियन था। दादी ने यश से कहा की तुम तो अच्छे भले लगते हो पर इंडिया में क्या काले भी होते हैं ?

कनाडा में पानी की कमी नहीं है और घरों में पानी २४ घंटे आता है। और इतना साफ़ आता है की घरों में फ़िल्टर या RO नहीं लगाए जाते। बाथरूम का नल खोल कर पानी पिया जा सकता है और लोग बिन्दास पीते भी हैं।
कुछ फ़ोटो :


क्यूबेक संसद के सामने महात्मा गांधी की मूर्ति 

क्यूबेक में बग्गी की सैर। बग्गी वाला गाइड का काम भी करता है और शहर की ऐतिहासिक जानकारी देता है

होटल के दसवें माले से लिया गया फ़ोटो 

सड़क के किनारे





Post a Comment